पहला टाइप राइटर कब बना?



  • टाइप राइटर दरअसल एक मैकेनिकल और इलेक्ट्रोमैकेनिकल मशीन है।
  • टाइप राइटर में एक अरेंजमेंट में अक्षरों की कुंजियां या कीज होती हैं। ये कीज जब सूखे इंक वाले रिबन पर पड़ती हैं, तो ये मशीन में लगे पेपर पर शब्द को अंकित कर देती हैं।
  • पहला कमर्शियल टाइप राइटर 1878 में अमेरिकियों ने ईजाद किया। 1930 में बाजार में हिंदी टाइपराइटर आया था। इसको डेवलप करना एक बहुत ही कठिन काम था। क्योंकि देवनागरी के अनेक चिह्नों को किसी भी प्रकार से 26 कुंजियों पर ही व्यवस्थित करना एक चुनौतीपूर्ण काम था।
  • कम्प्यूटर की तरह न तो मात्राओं को खुद ही जोड़ सकता था, न वर्ण-क्रम के अनुसार जुड़ने वाले मिश्रित अक्षर बना सकता था, इसलिए सभी चिह्नों, मात्राओं, संयुक्ताक्षरों के लिए अलग से कुंजियां याद रखनीं पड़ती थीं। गोदरेज कंपनी ने 1955 में भारतीय हिंदी टाइपराइटर का पहला उत्पाद लांच किया, जबकि इसका आइडिया 1948 में ही आ गया था।

Post a Comment

Previous Post Next Post