बंदूक से कैसे चलती है गोली?


  • सभी गन और बंदूकें मूलभूत सिद्धांत पर काम करती हैं, इसके लिए बंदूक के ट्रिगर को दबाया जाता है। बंदूक में फायर पिन और प्राइमर होते हैं और प्राइमर में ही गन पावडर भरा जाता है। फायर पिन प्राइमर पर मार करता है, प्राइमर गन पावडर को गर्म करता है और यह गर्म हुआ पावडर दबाव बनाता है।
  • यह दबाव बुलेट को बंदूक के बैरल को नीचे की ओर धकेलता है और फिर ये बुलेट या गोली बंदूक से बाहर निकलकर टारगेट की ओर जाती है।
  • बीसवीं सदी तक बंदूक सैनिकों द्वारा प्रयुक्त एक प्रमुख हथियार रहा है।
  • इनमें प्रयुक्त होने वाले बारह बोर के कारतूस 70 मिलीमीटर व 65 मिलीमीटर लंबाई के होते हैं। इकनाली बन्दूक में एक बार मे केवल एक ही गोली भर कर दागी जाती है, जबकि दुनाली बन्दूक में दो गोलियां भरकर क्रमश: दागी जा सकती हैं।
  • 1836 में सैमुअल कोल्ट नाम के एक व्यक्ति ने दुनिया के सामने एक ऐसी बंदूक रखी जिसमें एक बार में 5 गोलियां भरी जा सकती थीं, इसे रिवाल्वर कहते हैं। अब तो सैकड़ों प्रकार की बंदूकें बाजार में हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post